Loan & MortgageBusiness

सिबिल स्कोर कैसे बढ़ाए बेस्ट ट्रिक | Cibil Score Kaise Badhaye in Hindi 2024

लोन और सभी जानकारी के लिए Join WhatsApp Group Join Now

Table of Contents

सिबिल स्कोर कैसे बढ़ाए बेस्ट ट्रिक | Cibil Score Kaise Badhaye in Hindi

दोस्तों, अगर आपको पैसे की जरुरत है और आप बैंक से लोन लेना चाहते है। तो क्या आप जानते है बैंक कैसे लोन देती है। किसी भी प्रकार का लोन देने के लिए सबसे पहले बैंक क्या चैक करती है। वह चीज़ है आपका सिबिल स्कोर इसे क्रेडिट स्कोर भी कहते हैं। अगर आपके पास अच्छी इनकम, महंगी प्रॉपर्टी और अन्य की चीज़े हैं जिसे देखा कर आप लोन लेना चाहते है, पर अगर आपका सिबिल स्कोर ख़राब है तो चाहे आपके पास कितनी भी सम्पति हो आपको लोन मिलना बहुत मुशकित है। तो आज हम जानेंगे सिबिल स्कोर क्या होता है और अपना सिबिल स्कोर कैसे बढ़ाए (Cibil Score Kaise Badhaye) यह इतना इम्पोर्टेन्ट क्यों है। बैंक क्यों लोन देने से पहले Cibil Report निकलना जरुरी होता है। क्या Cibil Score के बिना के लोन नहीं हो सकता है।


अपना सिबिल स्कोर फ्री में कैसे चैक करें? (Apna cibil score free me kaise check karen)


क्या आप जानते है आप अपना सिबिल स्कोर खुद चैक कर सकते हैं। इसके लिए आपको Paytm App की सहता ले सकते है। Paytm App Score फ्री और स्पष्ट Cibil score बताता है। इसके लिए Paytm App ओपन करें और थोड़ा स्क्रॉल (scroll) करें, आपके सामने एक ऑप्शन आएगा लोन एंड क्रेडिट कार्ड्स (Loans & Credit Cards) इसमें थर्ड ऑप्शन फ्री क्रेडिट स्कोर (Free Credit Score) पर क्लिक करें।

अपना पैन कार्ड नंबर और आधार कार्ड नंबर इसमें डालें और नीचे दिए हुए बटन पर क्लीक करें थोड़ी देर वेट करें। अब आपका सिबिल स्कोर आपके सामने आ जायेगा है।

वैसे तो आप बहुत सारी एप से सिबिल स्कोर चैक कर सकते है। पर सबसे सही सिबिल स्कोर ट्रांस यूनियन (Trans Union) का माना जाता है जो आपको पेटीएम पर मिल जाता है।

इसके अलावा आप सिबिल स्कोर के लिए paisabazaar cibil score, bankbazaar credit score, experian cibil score, sbi cibil score, hdfc cibil score और अन्य से भी सिबिल स्कोर चेक कर सकते है।

सिबिल स्कोर और क्रेडिट स्कोर में क्या अंतर है? (Cibil score or credit score me kya antar hai)

 Cibil Score Ko Kaise Badhaye | How To Increase Credit Score | Credit Score Kaise Badhaye
सिबिल स्कोर कैसे बढ़ाए बेस्ट ट्रिक | Cibil Score Kaise Badhaye in Hindi 2024 3


सिबिल स्कोर और क्रेडिट स्कोर को लोग एक ही समझते हैं। क्रेडिट स्कोर किसी व्यक्ति या संस्था की वित्तीय जानकारी का संग्रह होता है। और इस जानकारी को संग्रह करने वाली संस्थान का नाम सिबिल है। इसलिए उच्चारण में इसे सिबिल स्कोर भी कहते हैं। सिबिल के अलावा और भी कंपनियां हैं जो क्रेडिट स्कोर उपलब्ध कराती हैं।

फाइनेंस के लिए सिबिल स्कोर जरुरी क्यों है? (Finance ke liye cibil score jaruri kyu hai)


आखिर सिबिल स्कोर इतना इम्पोर्टेन्ट क्यों है इसका जवाब यह है कि पहले जमाने में लोग एक दूसरे से पूछ कर पता लगा लेते थे की किसी व्यक्ति का लेनदेन कैसा है पर नए ज़माने में ऐसा नहीं है। क्योंकि पहले दुनिया बहुत छोटी हुआ करती थी।

इसलिए आसानी से पता लग जाता था की पैसे को लेकर व्यक्ति का कैसा व्यवहार रहा है क्या उसने पैसे देते वक्त आनाकानी किया बार-बार समय देने पर भी पैसा नहीं लौटाया। इसे ही नहीं जमाने में सिविल स्कोर का कहते हैं।

अगर बैंक और फाइनेंस कंपनिया बिना सिविल देखे लोन देती रहेंगी तो बैंकों का पैसा डूबने लग जायेगा और जो पैसा बैंक के पास है वो हमारा ही जमा किया होता पैसा है। तो हमारा जमा किया हुआ पैसा गलत हाथों में जाने के चांसेस बढ़ जाएंगे।

बैंक हमारा पैसा वापस नहीं दे पाएगी, इसे ही बैंक फेल होना कहते हैं। इसलिए तो दोस्तों सिविल हमारे ही पैसे की सुरक्षा के लिए बनाया गया है।

सिबिल स्कोर कितना होना चाहिए (Cibil score kitna hona chahiye)


दोस्तों आपको समझ में आ गया होगा कि सिबिल स्कोर लोन लेने के लिए कितना जरूरी है। पर क्या आपको पता है की लोन लेने के लिए आपका सिबिल स्कोर कितना होना चाहिए। जी हां अगर आपको अच्छी बैंक या फाइनेंस कंपनी से लोन लेना है तो आपका सिबिल स्कोर अच्छा होना चाहिए।

अब अच्छे सिबिल स्कोर की परिभाषा क्या है इसका उत्तर यह है की आपका सिबिल स्कोर 700 से उपर होना चाहिए। आपके जितने भी लोन जो अपने आज तक लिए हैं वो सभी टाइम टू टाइम जमा होने चाहिए।

कम सिबिल स्कोर पर लोन होता है क्या? (Low cibil score par loan hota hai kya)


दोस्तों अगर आपका सिबिल स्कोर कम है तो लोन लेने में बहुत सारी मुश्किलें आती हैं। कोई भी अच्छी बैंक या फाइनेंस कंपनी आपको लोन देने के लिए आपको मना कर देता है। पर आपको घबराने की जरुरत नहीं है अगर आपका आपका सिबिल स्कोर 650 से 700 के बिच है। तो आपको तोड़ी ज्यादा ब्याज देना होगा। इसके लिए आपको बी ग्रेड फाइनेंस कंपनी से बात करनी होगी।

ये कंपनी बैंको के मुकाबले छोटी होती हैं आपकी अर्जेंट जरुरत पूरी हो जाएगी। इस बार लोन लेने के बाद आप पहले वाली गलती न दोहराये। इस बार लोन को टाइम टू टाइम चुकाएँ। कुछ समय बाद लग भग 6 से 12 महीने में आपका सिबिल स्कोर सुधार जाएगा। यानी 700 से ऊपर आ जाएगा, इसके बाद आप किसी भी अच्छी बैंक में अप्लाई करके अपने लोन को कम ब्याज पर ट्रांसफर करवा सकते हैं।

क्या कम सिबिल स्कोर पर लोन मिलता है? (Kya kam cibil score par loan milta hai)


अगर आपका सिबिल स्कोर 650 से भी कम है तो भी आपको लोन मिलने के चांसेस कम हो जाते हैं। पर इसके लिए आपको तोड़ी महनत करनी होगी, आपको कुछ पैसा इन्वेस्ट करना होगा।

सिबिल स्कोर कैसे बढ़ाए? (Cibil Score Kaise Badhaye)


सबसे पहले आप किसी भी बैंक में एफडी करा लें, अब इस एफड पर लोन लेने एफड के ऊपर लोन तुरत मिल जाता है। बैंक को इसमें कोई प्रॉब्लम नहीं होती। इस बार लोन सही तरीके चलाये और पहले वाली गलती न दोराहये।

इस लोन के सारे ट्रांजेक्शन सोच समझ कर करें। धीरे धीरे छोटे बड़े लेन देन करते रहें। कुछ समय बाद यानी 3 से 6 महीने में आपका सिबिल स्कोर बड़ जायेगा। बस आपको लेन देन करते रहना है।

पर अगर आपका किसी बैंक का कोई सिक्योर्ड लोन बाकी चल रहा है तो ये भी काम नहीं करेगा। यह अवशक है की आपके सभी सिक्योर्ड लोन में कोई पैसे बाकी न हो यानी ओवर ड्यू ना हो।

सिबिल स्कोर देखकर अकाउंट खोला जाता है क्या? (Cibil Score Dekha Kar Account Khola Jata Hai Kya?)


नहीं, बैंक में अकाउंट खोलने के लिए सिबिल स्कोर चैक नहीं किया जाता, केवल बैंक से लोन लेने के समय ही आपका सिबिल स्कोर चैक (Cibil Score Check) किया जाता है क्योंकि सिबिल स्कोर से पता चलता है की आप पैसे का लेन-देन में प्रकार करते हैं या पैसे लेते समय अलग और देते समय अलग व्यवहार करते हैं।

मेरा सिबिल स्कोर 1 है इसका क्या मतलब है? (Bank Cibil Score 1 Hai Iska Kya Matlab Hai?)


अगर आपका सिबिल स्कोर 1 है तो इसका मतलब है की अपने आज तक कोई लोन नहीं लिए है, क्योंकि कई बैंक या फाइनेंस कंपनी चाहती हैं के वे उस ग्राहक को लोन दें, जिसका किसी बैंक या वित्तीय संस्था (Finance Company) के साथ पुराना किसी प्रकार की पैसे के लेन देन हुआ हो। जिससे बैंक को लोन देते समय यह पता चल जाये की यह व्यक्ति पैसे के लेन देन में कैसा है।

सिविल कैसे खराब होता है? (Cibil Score kaise kharab ho jata hai)


सिबिल स्कोर ख़राब होने का मुख्या कारण है, लोन की किस्तों का समय पर न चुकाना चाहे वह लोन आपका हो या अपने किसी लोन में गारंटी दी हो। यह नियम सभी प्रकार के लोन पर लागु होता है। जैसे की पर्सनल लोन, होम लोन, क्रेडिट कार्ड, कार लोन और अन्य।

सिविल खराब होने पर कौन सी बैंक लोन देती है? (Cibil Score kharab hone par kaun si bank loan deti hai)


सिविल खराब होने पर लोन मिलने में बहुत ज्यादा परेशानी होती है और कोई भी बैंक आपको आसानी से लोन नहीं देती। सिबिल स्कोर ख़राब होने पर आपको आपको NBFC से लोन लेना पड़ेगा। क्योंकि NBFC की ब्याज दर बैंक से ज्यादा होती है इसलिए वह बैंक से ज्यादा रिस्क लेकर भी अपने कस्टमर्स को लोन देती है पर यह भी आपका सिबिल स्कोर चेक करती है। अगर आपका सिबिल स्कोर 600 से कम या आपका किसी लोन में overdue amount ज्यादा है तो यह भी लोन देने से मना कर सकती है।

मैं 900 सिबिल स्कोर कैसे प्राप्त कर सकता हूं? (Main 900 cibil score kaise prapt kar sakta hu)


अगर आप चाहते है के आपका सिबिल स्कोर 900 हो तो आपको इसके लिए अपने सभी तरह के लोन सिक्योर्ड और अनसिक्योर्ड का समय पर भुक्तान करते रहें। सिबिल स्कोर के लिए बार बार इन्क्वायरी न करें। इससे सिबिल को लगता है के आपको बार बार लोन लेने की जरुरत पड़ती है। इसके अलावा किसी भी जानकर के लोन गारंटी से बचें। क्योंकि आप जिसकी गारंटी दे रहे हैं अगर उन्होंने लोन की किश्तों का भुक्तान समय पर नहीं किया तो आपके सिबिल स्कोर पर असर पड़ेगा।

सिबिल स्कोर कैसे बढ़ाए – टिप्स | Cibil Score Kaise Bhadaye in Hindi – Tips & Tricks


अपना सिबिल स्कोर बढ़ाने के कुछ टिप्स जिनको आपको फॉलो करना चाहिए।

  • अपने लोन की किश्त हमेशा समय पर चुकाए।
  • अपनी आय से ज्यादा लोन कभी न लें यह आपको परेशानी में डाल सकता है।
  • किसी भी लोन की गारंटी सोच समाज कर दें।
  • अनजाने में किसी भी लोन कंपनी से लोन न लें। क्योंकि लोन एक लीगल प्रोडक्ट है। इससे आप क़ानूनी प्रक्रिया में फस सकते हैं।
  • छोटी-मोती जरुरत के लिए लोन न लें क्योंकि कई बार हम लोन छोटे लोन को हलके में ले लेते है। इससे आपको भविष्य का कोई बड़ा लोन प्रभावित हो सकता है।
  • दिखावे के लिए कभी लोन न लें। यह आपको धीरे धीरे बड़े कर्ज के दलदल में धकेल सकता है। एक बार आप इस में फस गए तो इससे बहार निकलना बहुत मुश्किल है।

निष्कर्ष (Conclusion) :

इस आर्टिकल में बताया गया है की Cibil Score Free में कैसे निकले और अगर किसी कारणवश आपका सिबिल स्कोर कम है तो अपना Cibil Score Kaise Badhaye . आप इस तरीके का इस्तमाल करके आप अपना Cibil Score बढ़ा सकते हैं। आपको यह जानकारी कैसे लगी कमेंट करके करें और अन्य लोगों के साथ शेयर करें।

FAQ : Cibil Score Kaise Badhaye

सिबिल स्कोर बढ़ाने के लिए क्या करना पड़ेगा?

सिबिल स्कोर बढ़ाने के लिए लोन की किश्त समय पर देने की आदत डाले। अगर आपका सिबिल ज्यादा खराब हो गया है तो, बैंक में एफडी कराके लोन लेलें, इस बार लोन को सही समय पर चुकाएं। 3 से 6 महीने में आपका सिबिल स्कोर भड़ने लगेगा। इस बात का ध्यान रखें यह करने से पहले पुराने सभी लोन बंद या सेटल हो चुके हों। यह तरीका ख़राब से ख़राब सिबिल स्कोर को सही कर सकता है।

सिबिल स्कोर कितने दिन में ठीक होता है?

सिबिल स्कोर वैसे तो हर महीने की 30 तारिक को अपडेट होता है, कभी-कभी 45 दिन भी लग सकते हैं। पर अगर बैंक सिबिल संस्था को लोन के बारे में देरी से अपडेट करता है तो इसमें ज्यादा समय लग जाता है। आमतोर पर ये 45 से 60 दिन में सिबिल अपडेट हो जाता है। इससे ज्यादा समय लगने पर आप बैंक में जाकर बात करें और उन्हें सिबिल को मेल करने के लिए कहें। बैंक के मेल करने के बाद दो हफ्ते में आपका सिबिल स्कोर अपडेट हो जायेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
ये है देश की ऑल टाइम Best Selling Car, अब तक 70 लाख से ज्यादा लोगों ने खरीदा; देखें टॉप-5 में कौन-कौन Thar मचाएगी हाहाकार! बस 6 लाख में यहां मिल रही SUV, साथ जाने नए सॉलिड अपडेट लपक के खरीदे Maruti की Brezza सिर्फ और सिर्फ 50,000 में हाथ से न जाने पाए यह मौका 25Kmpl माइलेज के साथ आई TATA Sumo कार, 8 लाख के बजट में आपको मिलेगा अमीरों वाली फिलिंग Realme की कीमत हुयी सस्ती Narzo 70 मिल रही है 3000 रुपये की छुट ,जानिए क्या है मामला